पीएम मोदी के क्षेत्र वाराणसी से गुस्ताफी निदेशक को पड़ा भारी, डिमोट हुए

0
924

वाराणसी में बिजली आपूर्ति में लापरवाही बरतने पर निगम डायरेक्टर को इंजीनियर बना दिया गया।

रिपोर्ट4इंडिया ब्यूरो.

वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में बिजली आपूर्ति में घोर लापरवाही बरतने पर पूर्वांचल बिजली वितरण निगम के डायरेक्टर को डिमोट कर इंजीनियर बना दिया गया। यूपी सरकार ने साफ किया है कि राज्य के सभी क्षेत्रों को बिजली देने में कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम के तकनीकी निदेशक अंशुल अग्रवाल का डिमोशन कर उन्हें मुख्य अभियंता बना दिया गया है। अंशुल के निदेशक पद पर रहते हुए काम में लापरवाही बरतने के आरोपों के बाद उन्हें डिमोट किया गया। बताया जाता है कि वाराणसी के चौधरी बिजली उपकेंद्र से 7 जुलाई को 18 घंटे और 21 जुलाई को 36 घंटे बिजली गुल रही थी।

बिजली मंत्री श्रीकांत शर्मा के अनुसार, बिजली आपूर्ति में लापरवाही बरतने और देर से बिजली गड़बड़ी को ठीक करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। यदि, मामला प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र का हो तो यह और अधिक लापरवाही माना जाएगा।